Terms of Use

लाइफस्टाइल ब्लिस डॉट इन पर विजिट करने के लिए धन्यवाद। आप जब चाहे इस वेबसाइट पर विजिट कर सकते है। आप सभी जो भी इस साइट पर विजिट करते है उन सभी से आशा की जाती है की आप इस वेबसाइट के नियम और शर्तो का पालन करेगे।

इस वेबसाइट को उपयोग करने के पहले आप एगिमेंट की निम्न टर्म और कंडिशन के लिए तैयार हैं।

महत्वपूर्ण

  • इस वेबसाइट के नियम और शर्ते सभी पर लागु होती है।
  • यह वेबसाइट उपलब्ध कराइ गई जानकारियों और दिए गए कनटेंट पर कोई सलाह, प्रमाणपत्र, गारंटी या वॉरंटी प्रदान नहीं करता है।

वेबसाइट के उपयोग की शर्ते

इस साइट पर दी गयी जानकरी के उपयोग को इन शर्तों द्वारा नियंत्रित किया जा रहा है। यदि आप इस वेबसाइट का उपयोग करते हैं तो स्वीकार कीजिए कि आपने इन शर्तों को पूरी तरह पढ़ लिया है और आप स्वीकार करते हैं कि समय-समय पर किए जा रहे इस परिवर्तनों और शर्तों से आप बाध्य हैं।

  • इस वेबसाइट पर आप कोई भी गलत शब्दो का प्रयोग नहीं करेंगे और न ही गलत कमेंट करेंगे।
  • इस वेबसाइट पर दर्शित कोई भी जानकारी के उपयोग से होने वाले प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष नुकसान के लिये लाइफ़स्टाइल ब्लिस जिम्मेदार नहीं है।

उद्देश्य

  • इस साइट पर दी गई सामग्री का उद्देश् केवल जानकारी उपलब्ध कराना है।
  • lifestylebliss.in किसी भी विशिष्ठ स्तिथि में सटिक जानकारी होने का कोई दावा नहीं करता है।

सामान्य

  • यदि आप हमसे कांटेक्ट करना चाहते है तो कांटेक्ट अस पेज का इस्तेमाल करे।
  • अगर कोई पोस्ट किसी के कॉपी राईट में आये तो कृपया जरूर बताये।

वेबसाइट बौद्विक संपदा

इस वेबसाइट पर प्रस्तुत सामग्री जैसे टेक्स्ट, ग्राफिक्स, इमेज, ऑडियो, डिजाइन और अन्य सामग्री निजी इस्तेमाल के लिए ही है। अगर कोई उपभोक्ता वेबसाइट पर दर्शित इस सामग्री का उपयोग किसी भी व्यावसायिक उद्देश्य या अन्य उद्देश्य से करता है तो यह कॉपीराइट का उल्लंघन है।

  • साइट पर उपलब्ध सामग्री के उपयोग के लिए लाइफ़स्टाइल ब्लिस से पहले स्वीकृति लेनी होगी।
  • इस साइट द्वारा ली गयी सामग्री को गलत तरीके से उपयोग नहीं किया जा सकता है।
  • इस वेबसाइट से डाटा डाउनलोड करने की वजह से किसी भी नुकसान की जिम्मेदारी लाइफस्टाइल ब्लिस की नहीं है।
  • यह नियम और शर्तें भारतीय कानून द्वारा शासित और मान्य होंगी। इन नियमों एवं शर्तों में यदि कोई विरोध उत्पन्न हो तो इनका क्षेत्राधिकार केवल क्षेत्रीय / भारतीय न्यायालयों में ही होगा।