ताड़ासन योगा – झुके हुए कंधे, छोटा कद आदि समस्याओं में फायदेमंद

0
460
Tadasana Yoga
Image Source ="ethnichealthcourt.com"

शरीर के सेहतमंद होने के साथ साथ इसका आकर्षक होना भी जरुरी है। क्योंकि इसकी जरुरत हर जगह है। ऊंचा कद, शरीर का सही पोस्चर यह सब आपको भीड़ से अलग दिखने मे मदद करते है।

वो वक्त गया जब केवल टेलीविज़न से जुडी फ़ील्ड्स में इन् बातो की जरुरत होती थी अब तो अच्छी पर्सनालिटी हर जॉब के लिए जरुरी हो गयी है| यहाँ तक की अब सॉफ्टवेयर इंडस्ट्रीज में भी पर्सनालिटी आपका सिलेक्शन करवाने मे अहम भूमिका निभाती है।

आजकल जो दीखता है, वो बिकता है का रूल बन गया है। कई बार तो आपके सुविज्ञ (knowledgeable) होने के बावजूद भी आपसे कम जानकारी रखने वाला व्यक्ति आपसे आगे बढ़ जाता है। वजह अगर कुछ है तो वो है आकर्षक शरीर।

कई कारणों से लोगो का कद लम्बा नहीं हो पता है। आज इस लेख मे हम इसके कारणों के बारे चर्चा नहीं करने वाले है। यदि झुके हुए कंधे, छोटा कद आपको आगे बढ़ने मे बाधा डाल रहा है तो यह लेख आज आपके लिए ही है।

योग के अंतर्गत आने वाले कई आसनो में से आज हम ताड़ासन के बारे में आपको जानकारी दे रहे है। इसे अंग्रेजी मे माउंटेन पोज़ के नाम से जाना जाता है। यह दिखने मे तो आसान है लेकिन इससे आप अपने छोटे कद से छुटकारा पा सकते है। यह हाइट बढ़ने का सबसे प्रभावी तरीका है।

क्यों कहते है ताड़ासन?

ताड़ासन दो शब्दों के मेल से बना है ताड़ + आसान। ताड का मतलब होता है पर्वत। इसलिए इसे बहुत ही फायदेमंद आसन कहा गया है। ऐसा लगता है की इसे करना बहुत सरल है, लेकिन ताड़ासन को सही से करने के लिए आपको कई बार इसका अभ्यास करना होगा। यह आपको शारीरिक फायदों के साथ साथ मानसिक फायदे भी देता है।

इसके फायदे

  1. यह आपके शरीर को मजबूत और सुडौल बनता है। इससे शरीर मे संतुलन और दृढ़ता भी आती है।
  2. जिन लोगो के कंधे झुके हुए है उन्हें इस आसन का अभ्यास जरूर करना चाहिए, क्योंकि इससे शरीर का पोस्चर सुधरता है।
  3. रोजाना इसका केवल 10 मिनट अभ्यास करके आप अपने कद को बढ़ा सकते है। यह 23 की उम्र तक कद बढ़ाने मे मददगार है।
  4. इससे पाचन तंत्र मजबूत बनता है जो कि स्वस्थ शरीर के लिए बहुत जरुरी है।
  5. जो लोग अपना आत्मविश्वास बढ़ाना चाहते है उन्हें इसे जरुर करना चाहिए।
  6. यह आपके अंदर से आलस्य दूर करता है इससे आपके पेट और हिप्स की चर्बी भी दूर होती है।

ताड़ासन आपके शरीर और चेतना (Consciousness) को एकीकृत करता है। यदि आप योग के लिए नए है तो हम आपको इसे करने की सलाह जरूर देंगे।

ताड़ासन करने की विधि:-

  • ताड़ासन को आप घर में या बाहर कही भी कर सकते है, बस इसे करने के लिए किसी साफ़ और समतल जगह का चुनाव करे|
  • अब उस जगह पर आप या तो चटाई या फिर दरी बिछा लीजिये| योग के आसनों को आसन पर ही करना चाहिए|
  • अब आप आसन पर सावधान की मुद्रा में खड़े हो जाये और अपने दोनों पैरो के बिच में कम से कम एक फूट की दुरी रखे|
  • अब दोनों हाथो की उंगलियों को क्रॉस करके आपस में मिला ले| अब दोनों हाथो को ऊपर की और ले जाये|
  • इस दौरान आपके हाथो की हथेलियों का रुख आसमान की और होगा|
  • जिस वक्त आप अपने हाथो को ऊपर ले जा रहे होंगे उसी दौरान अपनी एडियो को भी सांस लेते हुए ऊपर उठाये|
  • इस स्तिथि में कम से कम 2 मिनट रुके रहे| इस दौरान आपका पूरा वजन आपके पंजो पर होगा|
  • अब एडियो को निचे लाये और हाथो को भी निचे लाकर सर के ऊपर रख दे|
  • फिर हाथो को और एडी को वापिस ऊपर लेकर जाये, और वापिस निचे ले आये|

सावधानिया:-

यदि आपको निम्न समस्या है तो आपको इस आसन का अभ्यास नहीं करना चाहिए:-

  • सरदर्द
  • अनिद्रा
  • निम्न रक्तचाप
  • घुटने मे चोट
  • घुटने मे दर्द

योग से मिलने वाले फायदे आपके जीवन को धनि बनाते है, इसलिए आपको इसका अभ्यास जरूर करना चाहिए, खासकर गर्भावस्था मे| गर्भावस्था के शुरुवाती 4 महीने तक इसका अभ्यास किया जा सकता है| एक महीना होने के बाद बचे हुए तीन महीने में इसका अभ्यास करते वक्त अपनी एड़ियों को ऊपर न उठाये|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here