कैसे अपने रिश्ते को मजबूत और भरोसेमंद बनाए

0
159
How to Build Trust in a Relationship
Image Source =''Pixabay.com"

क्या आप जानते है किसी भी रिश्ते की नींव विश्वास होती है। यदि आपके और आपके पार्टनर के बीच विश्वास है तो आपका रिश्ता कभी नहीं टूटेगा।

यहा हमारा विश्वास से यह मतलब नहीं है की आप आपके पार्टनर पर कितना भरोसा करते है? बल्कि हमारा तात्पर्य यह है की आप अपने रिश्ते में कितना विश्वास कायम कर सकते है जिससे की आपका रिश्ता और भी ज्यादा मजबूत हो।

आपको यह बात जानकर हैरानी नहीं होनी चाहिए कि विश्वास प्यार से भी ऊपर है। दो प्यार करने वाले किसी ग़लतफहमी का शिकार होकर एक दूसरे को छोड़ सकते है। लेकिन अगर दोनों के बिच विश्वास है तो उनके रिश्ते की मज़बूती को कोई चीज़ ख़तम नहीं कर सकती।

तो चलिए आज के लेख में जानते है की रिश्ते में भरोसा कैसे लाये:-

अपने रिश्ते के प्रति वफादार रहे

यदि दो लोगो में से एक भी व्यक्ति वफादार नहीं है तो उनका रिश्ता ज्यादा समय काम नहीं करेगा। इसलिए खुद से प्रॉमिस करे की आप आपके साथी के प्रति वफादार रहेंगे। और हां आपको शारीरिक रूप से ही नहीं बल्कि भावनात्मक रूप से भी वफादार रहना है।

एक दूसरे से सीक्रेट ना रखे

अपने साथी से कोई बात न छुपाये। जब आप अपने जीवन की अहम् बाते अपने साथी को बताते है तो उसका आप पर विश्वास बढ़ने लगता है।

प्रॉमिस निभाना जरुरी

यदि आप अपने साथी से कोई प्रॉमिस करते है तो उसे याद रखे और भले ही वो प्रॉमिस छोटा क्यों न हो उसे नजर अंदाज ना करे।  क्योंकि लोग बड़े वादों को तो याद रखते है और निभाते भी है लेकिन छोटे मोटे किये गए वादों को तोड़ देते है।

यदि आप छोटी छोटी चीज़ो को भी महत्व दे जैसे की मिलने के लिए लेट हो रहे है तो कॉल करें, यदि आपने कोई समान लाने का प्रॉमिस किया है तो उसे याद से लाये। यह बाते दिखती छोटी है लेकिन रिश्ते में लम्बे समय तक विश्वास बनाये रखने में अहम् भूमिका निभाती है।

अपने पार्टनर पर ट्रस्ट करे

आपका साथी आप पर ट्रस्ट कैसे करेगा जब तक आप उस पर ट्रस्ट नहीं करते? इसलिए अपने पार्टनर पर ट्रस्ट करना सीखे।  क्योंकि जब तक दोनों लोग एक दूसरे पर ट्रस्ट करना नहीं सीखते उनके रिश्ते में ट्रस्ट कैसे आएगा?

यदि आप चीज़ो को लेकर असुरक्षित महसूस करेंगे तो इसका असर नकारात्मक तौर पर आपके रिश्ते पर पड़ेगा। आपके पास आपके पार्टनर को ट्रस्ट करने के लिए बहुत वजह है जब तक की आपके पार्टनर ने ऐसा कुछ नहीं किया हो जिससे आपका ट्रस्ट करना मुश्किल हो जाये।

यदि आपको कोई भी डाउट होता है या आप इस रिश्ते को लेकर असुरक्षित महसूस करती है तो इस बारे में अपने पार्टनर से साफ़ साफ़ बात कर लेना चाहिए।

माफ़ करना सीखे

आपको रिश्ते में भरोसा कायम करना है तो अपने साथी को माफ़ करना सीखे। यदि आप पुरानी ग़लतियों को बार बार सामने लाएंगे तो इससे आपका रिश्ता नहीं टिक सकता।

इसलिए माफ़ी स्वीकार करे, पुरानी बातों को भूलकर सच्चाई और प्यार के बुते पर अपने रिश्ते को आगे बढ़ाये।

अपने रिश्ते को सबसे ऊपर रखे

अपनी प्राथमिकताओं को हमेशा स्पष्ट रखें। अपना पूरा समय और एनर्जी दूसरे लोगो और अन्य एक्टिविटीज में ना लगाए।  यदि आप एक रिलेशनशिप में है तो आपको इस बात का ध्यान रखना होगा की यह आपकी प्राथमिकता में सबसे ऊपर हो।

अपने पार्टनर के लिए भी समय निकाले, जब आप उनके साथ क्वालिटी टाइम स्पेंड करेंगे तभी तो आपका रिश्ता भरोसेमंद बनेगा।

अपने रिश्ते पर काम करे

जिस तरह हम खुद को बेहतर बनाने के लिए व्यक्तिगत विकास पर काम करते है, ठीक उसी तरह रिश्तों को बेहतर बनाने के लिए उस पर काम करे।

यदि किसी भी रिश्ते में दोनों लोग इसे अच्छा बनाने के लिए मेहनत करते है तो रिश्ता मजबूत बनता है और एक दूसरे में विश्वास बढ़ता रहता है।

ना कहना भी जरुरी है

अपने रिश्ते को मजबूत और विश्वासी बनाने का यह मतलब भी नहीं है की आप हर चीज़ के लिए हां कहे।  यदि आपको कोई चीज़ पसंद नहीं है तो साफ़ साफ़ ना कहना सीखे।

बहुत से लोग अपने साथी को खुश करने के लिए शुरुआत में हर चीज़ के लिए हामी भर देते है, लेकिन बाद में यही चीज़ उनके रिश्ते के ख़तम होने की वजह बनती है।

अपने साथी को स्पेस दे

यदि आप अपने साथी को बिलकुल भी अकेला नहीं छोड़ रहे है तो इसका मतलब आपको अपने रिश्ते पर विश्वास नहीं है। इसलिए यदि आपका साथी उसके दोस्तों के साथ समय व्यतीत करना चाहता है तो उसे करने दे।

आप उसे साफ़ साफ़ बता सकते है की आपको क्या पसंद है और क्या नहीं। जैसे की यदि आपका साथी दोस्तों के साथ क्लब में जाना चाहता है और आपको यह चीज़ आपके रिश्ते के लिए महफूज नहीं लग रही तो साफ़ साफ़ मना कर सकते है।

अपनी फीलिंग शेयर करे

बहुत से लोग अपने साथी को यह नहीं बताते की वो उनसे क्या चाहते है।  ऐसे में उनके साथी को हमेशा अंदाजा लगाना पड़ता है की सामने वाले के लिए उन्हें क्या करना चाहिए?

ऐसे में कई बार वे इस रिश्ते से परेशान होने लगते है। यदि आप किसी रिश्ते में है तो निकटता जरूरी है। जब आप अपनी हर फीलिंग शेयर करेंगे तभी आप दोनों के बिच विश्वास बढ़ेगा।

अपने रिश्ते में विश्वास लाना इतना मुश्किल भी नहीं होता जब आपके दिल में सामने वाले के प्रति सम्मान और समझ हो। विश्वास याने की ट्रस्ट इसकी परिभाषा बस इतनी ही है की वही करे जो आप कहते है, और वही कहे जो आप करने वाले है। सच्चे रहे तो आपका रिश्ता अपने आप एक भरोसेमंद रिश्ते में तब्दील हो जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here